विज के ट्वीट यानि जंग की जुगाली

9:24 AM / Posted by SHIV SHAMBU /



विज ट्वीट कर रहे है  भासा ऐसी की दो मतलब निकल लो किया वे मनो की तारीफ कर रहे या कॉमेंट लकिन विज लगातार ट्वीट कर रहे है सरकार परेसान है मेने विज के कुछ ट्वीट का पोस्टमार्टम किया पाया विज तारीफ नही कर रहे  लकिन बड़ा सवाल किया विज खुद ठीक है किया इन 100 दिन में उन्होंने कोई असा बड़ा काम कर दिया जिसकी तारीफ होने चाहिए लगता नही दो डिपार्टमेंट की बात करता हु हेल्थ ओर खेल दोनों में विज खास नही कर पाये स्पोर्ट नीति छोड़ दे बस हेल्थ में सबसे बुरा हाल है म खुद कई हॉस्पिटल में गया कोई बदलाव नही हुआ कियोकि विज ने इस तरफ धियान नही दिया कुछ काम ऎसे है जो लोकल लेवल पैर निपट सकते है लकिन पहल नही हुई कोई दवा नही मरीज तंग है विज को चिंता नही एम्बुलेंस ठीक काम नही कर रही विज यदि करते तो लोकल लोगो से मिल कर कोई रास्ता निकल सकते थे वे उद्योगपतियों से चंदा लाकेर सरकारी हॉस्पिटल में कुछ दवा का परबंद कर सकते थे

अपनी बात  भूल गए विज

अम्बाला कैंट में आउटर में  रोड की पास कुस्ट आश्रम है इस के सामने शहर का कचरा डाला जा रहा है विज ने हुड्डा सरकार में सदन में यह मुद्दा उठाया था बहुत मार्मिक सब्द प्रयोग किय लकिन अब्ब हेल्त मिनिस्टर है उन बेकारों की लिए अबे तक कुछ नही हुआ

वंदना मामले में मुह की खाई

मुद्दा है गलत था मंत्री की गलती थे विज ने गलत स्टैंड लिया हो सकता है वंदना ने कही अओउर गलती की है लकिन इसका यह मतलब नही की किसी गक्ति की सजा इस तरह दी जाये करनाल की पंजाबी बिरादरी का बड़ा वर्ग वंदना की साथ है विज को पीछे हटना पड़ा  तुर्रा दिया अफसर सुनते नही

दिकत कहा है
विज अड़ जाते है इस वजह से कई बार डिक्टेटर जैसे लग ते है ईमानदार है इसमें सक नही यह अच्छी बात है लेकिन यह भी सही है की बाकि सारे बईमान नही है आप यदि काम में यकीं करते है तो किसी  से भी काम करा सकते है लीडर में यह बात  तो होनी  चाहिए की वे किसी से भी काम करा ले फिर दिकत किया है

अओउर अंत में
महाभारत न होता यदि गुरु द्रोण राजा की प्रति अंध भक्त न होते सही को सही कहते और गलत को गलत द्रोपती को दरबार में जब दुशासन उसका चीर हरण कर रहा था टब  द्रोपती न गुरु द्रोण से मदद की गुहार की लकिन गुरु का जवाब था वे सत्ता की साथ है कुछ नही कर सकते

0 comments:

Post a Comment